अमेरिकी गृहयुद्ध

अमेरिकी गृहयुद्ध

अमेरिकी गृहयुद्ध  1861 से 1865 के समय में संयुक्त राज्य अमेरिका ( USA ) के उत्तरी राज्य और दक्षिणी राज्यों के बीच में लड़ा जाने वाला एक गृह युद्ध था जिसमें उत्तरी राज्य की जीत हुई |

इस युद्ध में उत्तरी राज्य अमेरिका की संघीय एकता बनाए रखना चाहते थे और पूरे देश से दास प्रथा हटाना चाहते थे | अमेरिकी इतिहास में इस पक्ष को औपचारिक रूप से यूनियन कहा जाता है और अनौपचारिक रूप से यैन्की कहा जाता है | दक्षिणी राज्य अमेरिका से अलग होकर पड़ीसंघीय राज्य अमेरिका नाम से एक नया राष्ट्र बनना चाहता था |

जिसमें यूरोपीय मूल के श्वेत वर्ण के लोगों को अफ्रीकी मूल के कृष्ण वर्निये ( काला ) लोगों को गुलाम बनाकर खरीदने बेचने का अधिकार हो | दक्षिणी पक्ष को औपचारिक रूप से परीसंघीय और अनौपचारिक रूप से रेबेल कहा जाता है ।

इस युद्ध में लगभग 620000 अमेरिकी सैनिक मारे गए | तुलना के लिए सभी भारत-पाकिस्तान युद्ध को और 1962 के भारत-चीन युद्ध को मिलाकर देखा जाए तो इन सभी युद्धों में 15,000 से कम भारतीय सैनिक मारे गए |

क्रांति से पूर्व अमेरिका की स्थिति

इंग्लैंड एवं स्पेन के मध्य 1588 ईस्वी में नौसैनिक युद्ध में स्पेन की पराजय के बाद इंग्लैंड ने 1775 ईस्वी तक अमेरिका में 13 ब्रिटिश उपनिवेश बसाए इन उपनिवेश को भौगोलिक दृष्टि से तीन भागों में विभाजित किया जागया है |

उत्तरी भाग  _:  मेचाचुसेद्ध , न्यु हैम्पशायर , रोडस द्वीप या पहाड़ी और बर्फीले क्षेत्र थे अतः कृषि के लायक ना थे | इंग्लैंड को यहां मछली और लकड़ी प्राप्त होती थी |

मध्य भाग  :  न्यूयॉर्क, न्यूजर्सी , मैरीलैंड आदि जगह थे इन क्षेत्रों में शराब और चीनी जैसे उद्योग थे |

दक्षिणी भाग   :  उत्तरी कैरोलिना, दक्षिणी कैरोलिना ,जॉर्जिया ,वर्जिनियां आदि भाग थे यहां की जलवायु गर्म थी . खेती के लिए उपयुक्त इस क्षेत्र में अनाज, गन्ना, तंबाकू ,कपास और बागवानी फसलों का उत्पादन होता था |

इन उपनिवेशो में  90% अंग्रेज और 10%  जर्मन फ्रांसीसी पुर्तगाली थे.  इस तरह यह पश्चिमी दुनिया तथा नई दुनिया दोनों का हिस्सा था |

अमेरिकी गृहयुद्ध का कारण

उत्तरी राज्य
  • उत्तरी राज्य आर्थिक विषमता, विकसित ,औद्योगिक क्षेत्र, यातायात के साधन ,मशीन का प्रयोग, आर्थिक क्षेत्र में प्रगति ,वेतन भोगी श्रमिक ,कोयले और लोहे का उत्पादन बढ़ा, जनसंख्या अधिक तेजी से वृद्धि भी एक महत्वपूर्ण कारण है |
  • व्यापारिक नीति, पूंजीवाद, विदेशी प्रतिस्पर्धा, से बचने हेतु संरक्षण वादी नीतियां ,अहस्तक्षेप की नीति से उत्तरी राज्यों को फायदा
  • दास प्रथा मानवता का कलंक मानते थे |
  • नए राज्य प्रवेश, विधायिका का प्रतिनिधित्व . संविधान में मेशम डिक्सन सीमा एवं मिसौरी प्रवेश के बाद में 36 डिग्री 30 अक्षांश को विभाजक रेखा माना ,पश्चिम की ओर विस्तार, दा संयुक्त राज्य को नीच मानना भी एक कारण था |
  • भगोड़ा दास कानून :  भगोड़ा दास कानून के तहत भागे हुए दासो को दक्षिणी राज्यों को लौटाना था | परंतु उत्तरी राज्यों ने भागे हुए दासो को संरक्षण दिया | दक्षिणी राज्यों को वापस नहीं लौटाया |
  • अब्राहम लिंकन दास प्रथा के विरोध में और स्वतंत्रता संग्राम की विचारधारा से युक्त रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार अब्राहम लिंकन के राष्ट्रपति बनने पर उत्तरी राज्यों को संरक्षण मिला |
  • कैसस तथा नेब्रास्का का प्रवेश : यह दोनों राज्यों 36 ॰ 30 मिनट अक्षांश के उत्तर में थे | परंतु इन्हें 1854 में दास राज्यों के रूप में प्रवेश दिया गया |
  • भगोड़ा दास कानून :  भगोरा दास कानून का पालन चाहते थे

 

दक्षिणी राज्य
  • दक्षिणी राज्य कृषि एवं बागवानी अर्थव्यवस्था, मजदूरों की आवश्यकता और फिरकी दास जनसंख्या में कम वृद्धि थी |
  • इससे दक्षिणी राज्यों को नुकसान हुआ,विनिर्मित वस्तुओं की कीमत बढ़ी |
  • दास प्रथा का प्रचलन
  • अर्थव्यवस्था की मांग
  • नए राज्य का प्रवेश एवं विधायिका में प्रतिनिधित्व, 10 राज्यों के रूप में विलय से केंद्रीय विधायिका में दासो का प्रतिनिधित्व बढ़ा |
  • कैसस तथा नेब्रास्का का प्रवेश – दास युक्त राज्य का पक्ष मजबूत हुआ |
  • अब्राहम लिंकन दक्षिणी राज्य आशंकित थे और उन्होंने विद्रोह शुरू कर दिया |

अमेरिकी  गृहयुद्ध की शुरुआत

दक्षिण के राज्यों में पहली प्रतिक्रिया कैरोलिना राज्य द्वारा की गई और उसने संघ से अलग होने की घोषणा कर दी | फरवरी 1861 तक मिसीसिपी फ्लोरिडा अलबामा जॉर्जिया व टैक्सास ने भी संघ से अलग होकर जैफरन डेविस को अपना राष्ट्रपति नियुक्त किया और इसी के साथ गृह युद्ध की शुरुआत हो गई | जब दक्षिणी कैरोलिना से सुमस्टर  के किले पर बम फेंककर संघ के विरुद्ध युद्ध छेड़ दिया |

प्रथम आधुनिक युद्ध

अमेरिकी गृह युद्ध को प्रथम आधुनिक गृह युद्ध माना जाता है | इतिहास में या प्रथम युद्ध था जिसमें बख्तरबंद युद्धतोपो ने संघर्ष किया .पहली बार व्यापक रूप से तोपखाने तथा गोला बारूद का प्रयोग किया गया | समाचार पत्रों ने गृह युद्ध गतिविधियों का विस्तृत विवरण दिया और जनमत को प्रभावित किया | पहली बार घायल सैनिकों की चिकित्सा का सुव्यवस्थित ढंग से प्रबंधन किया गया | भूमिगत तथा जलगत सुरंगे बिछाई गई और युद्ध पोतों को डुबा देने वाली पनडुब्बियों का प्रयोग किया गया | इस प्रकार आधुनिक तकनीक पर आधारित यह प्रथम युद्ध माना जाता है |

गृह युद्ध के दौरान लिंकन की भूमिका

अविनाशी राज्य का अविनाशी संघ, दक्षिणी राज्यों द्वारा संघ से अलग हो जाने के कारण लिंकन ने घोषणा की कि संयुक्त राज्य अमेरिका संघ अखंडनिय है।

अब्राहम लिंकन के शब्दों में 

अगर हम सभी दासो को मुक्त कर संघ को बचा सके तो हम ऐसा करेंगे , अगर हम दासो को मुक्त किए बिना संघ को बना सके तो हम ऐसा करेंगे, और अगर कुछ दासो को मुक्त कर तथा कुछ अन्य को मुक्त नहीं करके संघ को बचा सके तो हम ऐसा ही करेंगे ,

 

लिंकन की कूटनीति :  लिंकन ने कूटनीतिक कुशलता के जरिए दक्षिणी राज्यों का विदेशों से संबंध बनने नहीं दिया | उसने सेनाओं को संगठित कर दक्षिण के सशक्त संघर्ष की चुनौती को तोरा | प्रारंभ से ही उसने सेनाओं का मुख्य लक्ष्य दक्षिणी प्रवेश पर अधिकार करना नहीं बल्कि परिसंघ की सेनाओं का विस्तार करना बताया |

इसे भी पढ़े :    इलेक्ट्रिक वाहनों का भविष्य

दास व्यवस्था का उन्मूलन 1861 ईसवी में लिंकन ने दास व्यवस्था का उन्मूलन कर दिया और उन्हें राष्ट्रीय सेनाओं में सम्मिलित होने के लिए आमंत्रित किया |

अंततः लिंकन के प्रयासों एवं कूटनीति कुशलता के जरिए उत्तरी राज्यों की जीत हुई और इसी के साथ 1865 ई   में गृह युद्ध समाप्त हो गया | 15 अप्रैल 18 65 को जॉन विक्सस बूथ द्वारा उसकी हत्या कर दी गई |

 अमेरिकी गृहयुद्ध का परिणाम एवं प्रभाव

  • मजबूत राजनीतिक संरचना का निर्माण  हुआ |
  • अविनाशी राज्यो का अविनाशी संघ के सिद्धांत की पुष्टि की गई |
  • सामाजिक मूल्य में परिवर्तन किया गया |
  • दास प्रथा की समाप्ति कर दासो को मतदान का अधिकार दे दिया गया |
  • इसका एक नकारात्मक पक्ष यह रहा कि नीग्रो एवं श्वेत का संघर्ष बढा ग्रह युद्ध की अव्यवस्था के कारण शीघ्र धनवान बनने की प्रवृत्ति का विकास हुआ | अंततः भ्रष्टाचार बढ़ा और कुछ अंशों में सामाजिक का नैतिक स्तर गिरा |
  • अमेरिका का एक औद्योगिक राष्ट्र के रूप में उद्भव हुआ |
  • दक्षिणी राज्यों का भी औद्योगिकरण 1864 ईसवी राष्ट्रीय बैंकिंग अधिनियम, आधुनिक संचार सुविधाओं का जाल ( जैसे टेलीग्राफ लाइन टेलीविजन ) तथा महाद्वीपीय रेलमार्ग का निर्माण,  पूंजीवाद एवं मुक्त अर्थव्यवस्था ,बिलयन समेकन और विनिर्माण एवं परिवहन कंपनियां एकीकृत हो गई |
  • महिलाओं की भूमिका का विस्तार ,मताधिकार एवं रोजगार में भागीदारी बढ़ने लगी |
  • गृह युद्ध के परिणामों को देखकर आमिर की गरीब को शल्य चिकित्सा की संज्ञा दी गई जो की अमेरिका के लिए उनका आशीर्वाद बन गई |

comment here