बीडीसी(BDC) फुल फॉर्म इन हिंदी (BDC ka full form) क्या होता है

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि बीडीसी(BDC) का फुल फॉर्म क्या होता है अगर नहीं तो आज हम इस आर्टिकल में पूरी विस्तार से समझेंगे कि bdc ka full form क्या होता है , बीडीसी कौन होता है ,इसका चुनाव कैसे होता है एवं इससे संबंधित अन्य सवालों को भी जानेंगे जो आपके मन में आते हैं तो आप से एक आग्रह है कि आप आर्टिकल को पूरा पढ़ें :

भारत की ज्यादातर जनसंख्या गांव में बसती है और गांव के विकास के लिए जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत और ग्राम पंचायत का गठन किया गया, जिसमें ग्राम पंचायत सबसे निचला स्तर है |

बीडीसी का फुल फॉर्म ( bdc ka full form)

bdc ka full form : block development council (ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल) होता है इन्हें क्षेत्र पंचायत समिति के नाम से भी जानते हैं, इसे हम शॉर्ट फॉर्म में बीडीसी(BDC) बोलते हैं ,इन्हे हिंदी में प्रखंड विकास समिति कहा जाता है यह समिति पंचायतों के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में विकास कार्यों की समीक्षा करती है |

बीडीसी(BDC) क्या है ? BDC kya hai ?

बीडीसी(BDC) एक संवैधानिक पद है जिसका चुनाव ग्राम पंचायत के लोगों द्वारा किया जाता है | इनका मुख्य काम ग्राम पंचायत के समस्याओं को ब्लाक प्रमुख तक पहुंचाना और ब्लॉक स्तर के सभी योजनाओं को गांव तक पहुंचाना है | यह अपने एरिया के 15% काम करवाते हैं |

बीडिसी (BDC) के कार्य क्या होते है 

बीडीसी को ग्राम पंचायत में कई कार्य सौंपा जाते हैं जैसे

  • नाला का निर्माण कराना
  • तालाबों की मरम्मत करवाना
  • बाढ़ से लोगों को बचाने के लिए राहत समाधि पहुंचाना
  • ग्राम पंचायत के नहरों को मरम्मत करवाना
  • मनरेगा द्वारा पुराने सड़कों को मिटटी करण करवाना
  • गांव की समस्या को ब्लाक प्रमुख तक पहुचाना

बीडीसी का चुनाव कैसे होती है

बीडीसी(BDC) का चुनाव ग्राम सभा के सदस्य द्वारा किया जाता है यानी जो व्यक्ति अपने पंचायत के ( प्रधान ) मुखिया को चुनते हैं वही व्यक्ति बीडीसी का भी चुनाव करते हैं |

चुनाव के लिए डॉक्यूमेंट

  • जाति प्रमाण पत्र
  • आवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साईंज फोटो
  • चरित्र प्रमाण पत्र

बीडीसी चुनाव जीतने पर कितना पैसा मिलता है

बीडीसी का चुनाव जीतने पर हर एक प्रत्याशी को 1500 से 2500 रुपए के बीच मासिक सैलरी दी जाती है, लेकिन यह रुपए हर एक राज्य के ऊपर निर्भर करता है किसी किसी राज्य में कम या ज्यादा हो सकता है |

पैसों का बंटवारा कैसे होता है

सबसे पहले पैसा आता है बिहार सरकार से निकलकर पंचायती राज विभाग के पास आता है पंचायती राज विभाग उन पैसों को डिस्टिक मजिस्ट्रेट(DM) के पास भेजता है| डीएम(DM) उन पैसों को प्रखंड विकास पदाधिकारी (BDO) के पास भेजता है और BDO उस पैसे को ब्लाक प्रमुख के पास भेजता है और फिर ब्लॉक प्रमुख निर्धारित करता है की किस पंचायत को कितना पैसा देना चाहिए ‘ |

एक प्रखंड में बीडीसी की संख्या कितनी होती है

बीडीसी की संख्या को जनसंख्या और क्षेत्रफल के आधार पर बाटा जाता है। जनसंख्या के अगर बात करें तो लगभग 3000 से लेकर 4000 वोटरों की जनसंख्या में 1 बीडीसी नियुक्त किया जाता है |

बीडीसी के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

बीडीसी चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशी को 21 साल से अधिक उम्र का होना चाहिए, उसके ऊपर किसी प्रकार का मुकदमा दर्ज नहीं कराया गया हो या फिर उसे दिवालिया घोषित ना किया गया हो . लेकिन इसमें शिक्षा की कोई सीमा निर्धारित नहीं की गई है अगर आप पढ़े लिखे नहीं हैं बीडीसी का चुनाव लड़ सकते हैं |

इसे भी पढ़े :  IAS full form in hindi | आईएएस(IAS)अधिकारी कैसे बने

बीडीसी का कार्यकाल कितना वर्ष का होता है

बीडीसी(BDC) का कार्यकाल 5 वर्षों के लिए होता है. लेकिन अगर किसी कारणवश क्षेत्र पंचायत भंग हो जाए तो जो नया बीडीसी का चुनाव होगा| वह शेष बचे हुए समय तक है अपने पद पर रह सकता है उसके बाद उसे फिर से चुनाव लड़ना होगा |

बीडीसी का गठन कब किया गया

बीडीसी का गठन त्रिस्तरीय पंचायती राज्य व्यवस्था में किया गया जो 73वां संविधान संशोधन 1992 में लागू किया गया जिसे संविधान के अनुच्छेद 243 के अंतर्गत लागू किया गया | इसके तीन स्तर है, जिला स्तर पर, ग्राम स्तर पर ,क्षेत्रीय स्तर पर जो क्षेत्रीय स्तर पर के सदस्य होते हैं उन्हें बीडीसी(BDC) कहते हैं |

BDC के अन्य full from क्या है

FaQ related BDC full form of hindi 

1, बीडीसी अपना त्यागपत्र पत्र किसे देता है?

  • बीडीसी अपना त्यागपत्र ब्लाक प्रमुख को देता है

2. बीडीसी को अपने क्षेत्र में कितने % कामो को करने का अधिकार है ?

  • बीडीसी को अपने क्षेत्र के 15% कामों को कराने का अधिकार होता है

3.बीडीसी का सैलेरी कितनी होती है ?

  • बीडीसी(BDC) की सैलेरी 1500 से 2500 के बीच होती है |

इसे भी पढ़े :

⇒  NEET full form in hindi, NEET क्या है, नीट की तैयारी कैसे करें

⇒  IPS ka full from kya hota hai – आप IPS कैसे बन सकते हैं?

⇒   ed ka full form क्या होता है, ED का मुख्यालय कहां है  

दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आप इस आर्टिकल में पूरी विस्तार से समझे होंगे कि bdc ka full form क्या होता है ,बीडीसी कौन होता है ,बीडीसी का चुनाव कैसे होता है एवं और भी महत्वपूर्ण बातें अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आई हो तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं

 

comment here