बीपीएससी का फुल फॉर्म(BPSC full form)क्या होता है

इस आर्टिकल के माध्यम से हम जानेंगे कि BPSC क्या है, बीपीएससी का फुल फॉर्म (BPSC full form) क्या होता है, बीपीएससी का इतिहास क्या है, BPSC में सैलेरी कितनी मिलती है एवं बीपीएससी से संबंधित सभी महत्वपूर्ण बातें जो आपको जाने चाहिए तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें :

बहुत से विद्यार्थी का सपना होता है की बड़े होकर कोई ऑफिसर बने लेकिन यह सपना वही पूरा कर पाते हैं जो अपनी खुली आंखों से सपना देखते हैं| ऐसे में BPSC ऑफिसर बनने के लिए अच्छा माध्यम है |

बीपीएससी का फुल फॉर्म(BPSC full form)क्या होता है

बीपीएससी का फुल फॉर्म(BPSC full form) होता है Bihar Public Service Commission इसे हिंदी में बिहार लोक सेवा आयोग कहते हैं |

BPSC का अन्य(BPSC full form) फूल फॉर्म

  1. Back Post Single Crochet
  2. Bihar Public Service Commission
  3. Bangladesh Public Service Commission
  4. Business Process and Services Computing
  5. Belated Payment Surcharge
  6. Book Publicists of Southern California

बीपीएससी क्या है (BPSC kya hai )

बीपीएससी का फुल फॉर्म(BPSC full form)क्या होता है
BPSC full form

यह एक आयोग है जो बिहार के ऑफिसर पोस्ट के लिए वैकेंसी निकालती है और परीक्षा करवाती है एवं अंतिम उम्मीदवार की लिस्ट जारी करती है ।

BPSC के लिए शैक्षणिक योग्यता

BPSC के फॉर्म भरने के लिए विद्यार्थी को किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से स्नातक पास होना अनिवार्य है । आप ग्रेजुएशन किसी भी विषय से किये हो आप फॉर्म भर सकते हैं । जो विद्यार्थी स्नातक की फाइनल परीक्षा दे चुके हैं और रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं वह विद्यार्थी भी बीपीएससी (BPSC) का फॉर्म भर सकते हैं |

इसे भी पढे : एनडीए का फूल फॉर्म(NDA full form in hindi) क्या होता है |

बीपीएससी(BPSC) के लिए उम्र सीमा(Age Limit)

उम्र सीमा की बात करे तो बीपीएससी(BPSC) के लिए उम्र सीमा कैटेगरी के अनुसार निर्धारित की गई है.

जनरल कैटेगरी20 से 37 साल
ओबीसी कैटेगरी20 से 40 साल
एससी, एसटी कैटेगरी20 से 42 साल
Age limit

एक्जाम फी(Fee) कितनी लगती हैं

जिस तरह हर एक परीक्षा के लिए कुछ Fee लगती है उसी तरह BPSC का फॉर्म भरने के लिए भी कुछ Fee लगती है| बीपीएससी का परीक्षा फीस हर एक कैटेगरी के लिए अलग-अलग होती है |

Exam Fee

BPSC का फॉर्म कब निकलता है

बीपीएससी का फॉर्म साल में एक बार निकलता है और हर साल जून के बाद इसका नोटिफिकेशन निकाला जाता है और इसकी परीक्षा साल के अंत में या साल के शुरुआत के महीनों में होती है |

बीपीएससी में कितना अटेंप्ट दे सकते हैं

अटेंप्ट की बात करूं तो आप BPSC के परीक्षा अंतिम उम्र सीमा तक दे सकते हैं. मतलब जनरल कैटेगरी से आने वाले विद्यार्थी अपनी उम्र सीमा यानी 37 वर्ष की उम्र तक परीक्षा दे सकते हैं| वही ओबीसी(OBC) 40 वर्ष की उम्र तक एवं sc-st से आने वाले विद्यार्थी 42 वर्ष की उम्र तक परीक्षा दे सकते हैं ।

परीक्षा के कितने चरण होते हैं

BPSC परीक्षा केबीपीएससी परीक्षा के 3 चरण होते हैं

  1. Prelims exam
  2. Mens exam
  3. Interview

बीपीएससी(BPSC) का सिलेबस क्या है

किसी भी परीक्षा को पास करने के लिए उसका सिलेबस जानना बेहद जरूरी होता है चलिए जानते हैं इसके सिलेबस के बारे में |

Prelims exam syllabus

Prelims का परीक्षा 2 घंटे का होती है जिसमें सामान्य अध्ययन से प्रश्न पूछे जाते हैं जो 150 नंबर का होता है| प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप के रहते हैं |

इसे भी पढ़े : M.com का फुल फॉर्म (M.com full form in Hindi) होता है ।

प्रश्न पेपर हिंदी और इंग्लिश दोनों ही भाषाओं में रहती है. छात्र अपनी सुविधा अनुसार भाषा का चुनाव कर सकते हैं|

यहां आप ध्यान रखें प्रिलिम्स परीक्षा को पास करने के बाद ही आप मेंस परीक्षा दे सकते हैं|

प्रीलिम्स परीक्षा एक जांच परीक्षा होती है जिसके आधार पर मेंस एग्जाम के लिए विद्यार्थी का चयन होता है | इसमें प्राप्त किए गए नंबर फाइनल मेरिट लिस्ट में नहीं जुड़ता है ।

Mains exam syllabus

मेंस एग्जाम में 3 पेपर होते हैं तीनों पेपर compulsory paper होते हैं और एक ऑप्शनल पेपर होता है |

1st subject

सामान्य हिंदी जोकि 100 अंको का होता है इसके लिए 3 घंटे का समय निर्धारित किया गया है ।

निबंध, व्याकरण, वाक्य विन्यास और संक्षेपण के प्रश्न पूछे जाते हैं

  • निबंध 30 नंबर का होता है
  • व्याकरण 30 नंबर का होता है
  • वाक्य विन्यास 25 नंबर का होता है
  • संक्षेपन 15 नंबर का होता है
2nd Subject

सामान्य अध्ययन मतलब (general studies paper 1)जो 300 अंको का होता है. इसके लिए भी 3 घंटे का समय निर्धारित किया गया है ।

  • भारत का आधुनिक इतिहास एवं भारतीय संस्कृति.
  • राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय महत्व का वर्तमान घटना चक्र और करंट अफेयर्स से भी प्रश्न पूछे जाते हैं|
  • सांख्यिकी विश्लेषण अरेखन और चित्रण से प्रश्न पूछे जाते हैं|
3rd Subject

सामान्य अध्ययन पेपर 300 अंको का होता है इसके लिए भी 3 घंटे समय दिया जाता है

  • भारतीय राजव्यवस्था
  • भारतीय अर्थव्यवस्था और भारत का भूगोल
  • भारत के विकास में विज्ञान और प्रौद्योगिकी की भूमिका और प्रभाव से प्रश्न पूछे जाते हैं
4th optional paper (ऐच्छिक विषय )

ऑप्शनल पेपर के अंतर्गत 34 विषय आते हैं जिनमें से विद्यार्थी कोई एक विषय को चुन सकता है और उसका परीक्षा भी दे सकता है | ऑप्शनल पेपर 300 अंक का होता है और इसकी परीक्षा 3 घंटे की होती है इसमें जो प्रश्न पूछे जाते हैं वह दो भागों में पूछे जाते हैं Part1और Part2

Interview

जब आप प्रिलिम्स और मैंस एक्जाम क्वालीफाई कर लेते हैं तब आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है | इंटरव्यू में आपसे कई तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं |

इसे भी पढ़े : MCA का फुल फॉर्म(mca ka full form) क्या होता है

जिनमें आपकी पर्सनालिटी का आकलन भी किया जाता है | इंटरव्यू 120 अंक का होता है. इंटरव्यू के बाद बीपीएससी में मिले अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट जारी कर दी जाती है ।

BPSC में जॉइनिंग कहां मिलती है

बीपीएससी एक साथ कई पोस्ट के लिए वैकेंसी निकलती है. इसीलिए इसमें पास होने वाले विद्यार्थी को उसके मेरिट लिस्ट से मिले रैंक के अनुसार डिपार्टमेंट और पोस्ट दी जाती है जैसे

  • DSP
  • commercial tax officer
  • Sab Election Officer
  • district audit officer
  • Rural Development Officer
  • revenue officer
  • supply inspector
  • block st and sc welfare officer

BPSC में सैलरी कितनी मिलती है

इसमें सैलरी रैंक के अनुसार मिलती है जैसे मैंने पहले ही बताया है कि बीपीएससी एक साथ कई पोस्ट के लिए वैकेंसी निकालती है ऐसे में हर एक पोस्ट के लिए सैलरी अलग-अलग निर्धारित की जाती है |

इसे भी पढ़े : सीए का फूल फॉर्म(CA full form in Hindi) क्या होता है

विभिन्न पदों के लिए एक BPSC PCS अधिकारी का वेतन INR 9,300 से INR 34,800 + INR 5400, 4800, 4200 का ग्रेड वेतन मिलता है। वेतन आयोग के अनुसार बदल सकता है| और साथ ही कई तरह की सुविधाएं अलग से मिलती है।

बीपीएससी(BPSC) की तैयारी कैसे करें

  • BPSC एग्जाम की तैयारी करने के लिए सबसे पहले आपको इस परीक्षा का सिलेबस को अच्छी तरह से समझना होगा उसके बाद इसके बेसिक कॉन्सेप्ट को क्लियर करना होगा |
  • परीक्षा के लिए दिन और रात का एक सही टाइम टेबल बनाना चाहिए जिसे आप पालन कर सके |
  • पिछले 10 वर्षो का प्रश्न पत्र को ठीक से समझना और पढना होगा|
  • पुस्तकों की एक सूची तैयार करके और सही बीपीएससी ऑनलाइन कोचिंग कक्षाओं का चयन करके बीपीएससी 2021 परीक्षा की तैयारी शुरू कर सकते हैं।
  • BPSC मॉक टेस्ट और ऑनलाइन टेस्ट सीरीज़ ज्वाइन करे |
  • अगर आपको BPSC पास करना है तो आपको अभी से ही तैयारी में लग जाना चाहिए ।

BPSC का इतिहास क्या है

भारत के संविधान के इतिहास से पता चलता है कि कुछ पदों पर नियुक्ति के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करने की 1853 से शुरू की गई थी |1854 में इसकी आकार देने के लिए एक समिति का गठन हुआ |

संघ लोक सेवा आयोग और राज्य लोक सेवा आयोग का गठन भारत सरकार अधिनियम 1935 के तहत किया गया था बिहार लोक सेवा आयोग 1 अप्रैल 1949 से उड़ीसा और मध्य प्रदेश राज्य से अलग होने के बाद अस्तित्व में आया|

बिहार लोक सेवा आयोग ने शुरू में रांची में अपना मुख्यालय के साथ बिहार राज्य के लिए अपना कामकाज शुरू किया था और उसके बाद राज्य सरकार ने बीपीएससी के मुख्यालय को रांची से पटना शिफ्ट करने का निर्णय लिया और 1 मार्च 1951 को बीपीएससी का मुख्यालय पटना बना दिया गया ।

इसे भी पढ़े :

प्रश्न: एक BPSC पीसीएस अधिकारी कितना कमाता है?

उत्तर: विभिन्न पदों के लिए एक BPSC PCS अधिकारी का वेतन INR 9,300 से INR 34,800 + INR 5400, 4800, 4200 का ग्रेड वेतन है।

प्रश्न: क्या बीपीएससी(BPSC) प्रारंभिक परीक्षा में कोई नकारात्मक अंकन है?

उत्तर: नहीं, बीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा में कोई नकारात्मक अंकन नहीं है।

प्रश्न: BPSC परीक्षा के लिए पेपर अटेम्प्ट करने की सीमा क्या है?

उत्तर: बीपीएससी परीक्षा को 3 बार हल करने की एक सीमा है।

प्रश्न: बीपीएससी का फुल फॉर्म क्या है?

उत्तर: बीपीएससी का फुल फॉर्म बिहार लोक सेवा आयोग है

प्रश्न: बीपीएससी 2020 में कितनी रिक्तियां हैं?

उत्तर: बीपीएससी 2020 द्वारा प्रदान की गई आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार कुल 423 रिक्तियां हैं।

इसे भी पढ़े : बीडीसी(BDC) फुल फॉर्म इन हिंदी (BDC ka full form) क्या होता है

हमें उम्मीद है की आप इस आर्टिकल में पूरी विस्तार से जानें होंगे कि BPSC क्या है, बीपीएससी का फुल फॉर्म (BPSC full form) क्या होता है, बीपीएससी का इतिहास क्या है, BPSC में सैलेरी कितनी मिलती है|अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आए तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं|

comment here