डीएम का फुल फॉर्म (DM full form in Hindi) क्या होता है

क्या आप जानते हैं कि डीएम का फुल फॉर्म (DM full form in Hindi) क्या होता है , डीएम(DM) कौन होता है, डीएम (DM) कैसे बनते हैं | अगर नहीं तो आज की इस आर्टिकल में हम पूरे विस्तार से DM के बारे में बताएंगे आपसे एक अनुरोध है कि आप आर्टिकल को पूरा पढ़ें:

डीएम(DM) बनने के लिए आपको सबसे पहले आईएएस( IAS) बनना होगा और आईएएस की परीक्षा यूपीएससी द्वारा कराई जाती है | अगर कोई कहता है कि वह डीएम या आईएएस की तैयारी करता है तो वह गलत है असल में वह डीएम की तैयारी नहीं बल्कि सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी कर रहा होता है इसके अंतर्गत कई सर्विस होते हैं जैसे आईएएस आईपीएस आई एफ एस यह महत्वपूर्ण पद है अगर आप आईएएस के लिए चुने जाते हैं तब आप एक डिएम बन सकते हैं |

डीएम(DM)कौन होता हैं

डीएम (DM) भारतीय प्रशासनिक सेवा का सदस्य है और इसे भारतीय जिले का मुख्य प्रशासनिक और राजस्व अधिकारी नियुक्त किया जाता है |

दूसरे शब्दों में कहें तो डीएम(DM) भारतीय प्रशासनिक प्रणाली में 1 जिले के शासनिक स्तर पर सबसे वरिष्ठ अधिकारी होता है | डीएम को जिला मजिस्ट्रेट या उपायुक्त भी कहा जाता है,जो राज्य सरकार के आंख, कान और हथियार के रूप में काम करते हैं | सरकार का प्रत्यक्ष प्रतिनिधि होने के नाते डीएम का आम जनता के साथ सीधे संपर्क होता है |

डीएम का फुल फॉर्म (DM full form in Hindi) क्या होता है

  • DM full form in Hindi : जिला अधिकारी
  • DM full form in English: District Magistrate

डीएम(DM)कैसे बने ?

डीएम बनने के लिए डायरेक्ट कोई परीक्षाएं नहीं होती है | डीएम बनने के लिए सबसे पहले आपको यूपीएससी(UPSC) की परीक्षा को पास करके आप आईएस बनेंगे । उसके बाद आप किसी राज्य के किसी जिले का SDM पद पर नियुक्त किए जाएंगे | एसडीएम(SDM) पद के 2 या 3 साल बाद आपको डीएम(DM) बना दिया जाएंगा ।

डीएम(DM) बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता

अगर आप किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक पास किए हुए हैं तो आप आईएस का फॉर्म भर सकते हैं | अगर आप किसी भी विषय से केवल पास है या आप ग्रेजुएशन लास्ट सेमेस्टर के छात्र हैं तो आप आईएस का फॉर्म भर सकते हैं |

इसे भी पढ़ें : EWS In Hindi : EWS certificate kya hai? EWS certificate कैसे बनता है

अगर आपने BA, BCom, BSc, BBA, BCA, engineering, medical या कोई भी डिग्री कोर्स किया हो तो आप यूपीएससी का परीक्षा देने के लिए योग्य हैं ।

डीएम(DM) बनने के लिए उम्र सीमा

सिविल सर्विस परीक्षा(UPSC) के लिए उम्र की जो सीमा तय की गई है वह नीचे दर्शाया गया है ‘

general21-32
OBC21-35
SC/ST21-37
Age limit ( DM full form in Hindi )

डीएम(DM) बनने के लिए Exam pattern

  • Prelims
  • Mains
  • Interview

Prelims

प्रीलिम्स परीक्षा में 2 पेपर होते हैं पहले जनरल स्टडीज और दूसरा सीसैट का होता है | दोनों पेपर 200-200 नंबर के होते हैं | दोनों पेपर में प्रश्न की संख्या अलग-अलग होता है | पहले पेपर में 100 प्रश्न और दूसरे पेपर में 80 प्रश्न होते हैं इस परीक्षा में आप हिंदी और इंग्लिश दोनों में किसी एक भाषा में परीक्षा दे सकते हैं | आप पर निर्भर करता है कि आप किस भाषा में परीक्षा दे सकते हैं ।

UPSC syllabus for paper 1 (200 marks )

  • current event
  • history of India
  • Indian and world geography Indian polity and governance
  • economics and social development

UPSC syllabus for paper 2 ( 200 marks )

  • comprehension
  • interpersonal skills
  • decision making and problem solving
  • general mental ability

Mains exam

Mains exam में कुल 9 पेपर होते हैं . फुल मार्क्स 1750 नंबर का होता है | 9 पेपर में से 7 पेपर पर ज्यादा ध्यान देना होता है | क्योंकि मेरिट जो बनाई जाती है इन्हीं 7 पेपर से बनाई जाती है | इसके अलावा दो पेपर क्वालीफाइंग होता है | इसके मार्क्स नहीं जोड़े जाते हैं | लेकिन आपको 33% नंबर लाना अनिवार्य है. इसमें एक पेपर अंग्रेजी का भी होता है ।

paper1250essay
paper2250 Indian history and culture, world geography and society
paper3250constitution politics social justice and international relation
paper4250 technology, economic, development, biodiversity, environment, security, and disaster management
paper5250 ethics, integrity, and aptitude
paper6250Optional Subject – Paper 1
paper7250Optional Subject – Paper 2
Total Written Test1750
Personality Test275
Mains exam ( DM full form in Hindi )

Interview

डीएम की Salary कितनी होती है

डीएम(DM) की शुरुआती लेबल पर 50000 से लेकर 150000 के बीच होती है । वही आप मंत्री के सचिव या विभाग के सचिव बनेंगे तो आपका सैलरी 100000 से 200000 के बीच होगी | अगर आप चीफ सेक्रेटरी बनते हैं तो 200000 और कैबिनेट सेक्रेटरी को ढाई लाख रुपए मिलते हैं ।

इसे भी पढ़ें :

हमें उम्मीद है कि आप इस आर्टिकल में पूरा विस्तार से समझे होंगे डिएम का फुल फॉर्म क्या होता है डिएम कैसे बनते हैं दिएम कौन होता है और बीएड से संबंधित अन्य प्रश्न जो आपके मन में थे , उन सभी प्रश्नों को हमने इस आर्टिकल में विस्तार से बताया है . अगर आपको आर्टिकल पसंद आया हो तो आप हमें कमेंट जरूर करें ।

comment here