NEET full form in hindi, NEET क्या है, नीट की तैयारी कैसे करें

हम सभी आगे बढ़ना चाहते हैं और इसके लिए अपने पसंदीदा फील्ड को चुनते हैं ताकि अपने पसंद का कैरियर बना सके इसके लिए हमें जमकर के पढ़ाई भी करनी होती है ताकि अच्छी परफॉर्मेंस से हमारे अचीवमेंट भी हाई हो सके | तो आज के इस आर्टिकल में हम लोग NEET क्या है , neet full form in hindi  , नीट की तैयारी कैसे करें ,इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे|

NEET( नीट ) क्या है|What is NEET

नीट का फुल फॉर्म होता है(  national eligibility cum interest tast ) होता है और यह भारत में मेडिकल एजुकेशन से जुड़े कोर्सेज एमबीबीएस( MBBS ) और बीडीएस ( BDS ) में एडमिशन लेने के लिए एक क्वालीफाई ( इंटरेस्ट एग्जाम ) Entrance Exam है |

इस परीक्षा को पास कर लेने वाले स्टूडेंट को एमबीबीएस( MBBS ) या बीडीएस ( BDS ) में एडमिशन मिल जाता है. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ( एनपीए )  नीट( NEET ) एग्जाम को क्लियर कराती है |

NEET( नीट ) कितनी परीक्षाये करता है 

नीट ( NEET ) परीक्षा दो लेवल पर होता है

  • ( UG ) यूजी 
  • ( PG ) पीजी

NEET ( UG ) यूजी : लेवल पर एमबीबीएस ( MBBS ) और बीडीएस ( BDS ) जैसे मेडिकल कोर्सेज के लिए इंटरेस्ट टेस्ट होता है |

NEET( PG ) पीजी : यह पीजी लेवल में एमएस( MS )  और एमडी (MD ) जैसे मेडिकल कोर्सेज में एडमिशन के लिए इंटरेस्ट टेस्ट होता है | यह एग्जाम हर साल देश के लगभग 479 मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन के लिए आयोजित किया जाता है |

नीट( NEET ) की जरूरत क्यों पड़ी 

अब बात आती है की नीट( NEET ) की जरूरत क्यों पड़ी जबकि इससे पहले भी मेडिकल कोर्सेस में एडमिशन के लिए इंटरेस्ट( Entrance ) टेस्ट हुआ करती थी तो इसका जवाब यह है कि NEET से पहले भारत में मेडिकल कोर्स में एडमिशन लेने के लिए अलग-अलग 90 परीक्षाएं हुआ करती थी | इनमें से ( NIPNT ) एआईपीएनटि और ( CBSC ) सीबीएसई द्वारा करवाया जाता था | और हर राज्य भी अपना अलग-अलग मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट करवाता था |

तो इस सिचुएशन में हर स्टूडेंट को लगभग 7 से 8 इंटरेस्ट( Entrance ) परीक्षाएं देने पड़ते थे, जिन्हें बहुत प्रेशर में रहते हुए प्रोफॉर्म करना होता था , बल्कि हर एग्जाम के साथ एंट्रस्ट फीस और एग्जाम में अपीयर होने के लिए बहुत सारा खर्चा भी हुआ करता था | तो इस फाइनेंसियल बॉर्डन  को हटाने और समय को बर्बाद होने से रोकने के लिए नीट ( NEET )  एग्जाम को लाया गया |

इसे भी पढ़े :  इंटरनेट का मालिक कौन है | इंटरनेट कहाँ और कैसे बनती है

यह एक सिंगल स्टेज एग्जाम है यह ऑफलाइन होता है आने वाले सालों में यह एक्जाम ऑफलाइन होगा या ऑनलाइन होगा यह अभी तय नहीं है यह भी बताया जा रहा है कि आगे होने वाले नीट( NEET ) की परीक्षा साल में एक बार होने की बजाय दो बार हो सकती है |

नीट में अपीयर होने के लिए मैथ होना जरूरी नहीं होता इस परीक्षा को देने के लिए कैंडिडेट की उम्र कम से कम 17 साल होनी चाहिए जबकि इस एग्जाम के लिए कोई अप्पर एज लिमिट नहीं है | इस परीक्षा में अपीयर होने के लिए अन रिजर्व कैटेगरी ( unreserved category) के कैंडिडेट को Class 12 में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय में 50% अंक लाना जरूरी होता है | जबकि ओबीसी एससी और एसटी परीक्षार्थियों के लिए 40% अंक लाना जरूरी होता है | इस परीक्षा को पास करने के लिए परीक्षार्थी कितने भी अटेम्प्ट ले सकते हैं सभी परीक्षार्थियों को भारतीय होना जरूरी है |

NEET का पूरा कोर्स ख़रीदे : क्लिक करे 

neet full form in hindi

जैसा कि हम सभी जानते हैं नीट का फुल फॉर्म national eligibility cum interence test  ( नेशनल एलेग्बिलिटी कॉम इन्टरेंस टेस्ट ) होता है |

इसे भी पढ़े :  Barcode क्या है | कैसे काम करता है और Barcode कैसे बनाये

नीट ( NEET ) का फॉर्म भरने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए

नीट परीक्षा में भाग लेने के लिए परीक्षार्थी को इंटरमीडिएट परीक्षा में केमिस्ट्री ,फिजिक्स और बायोलॉजी विषय के साथ उत्तीर्ण करना होगा और इंटरमीडिएट में 50% अंक लाना होगा तभी आप नीट (neet ) परीक्षा में भाग ले सकते हैं

नीट परीक्षा के लिए कितनी फीस लगती है

नीट परीक्षा के लिए सभी अलग – अलग प्रकार के जातियों के लिए अलग-अलग प्रकार के फिस लगते हैं ‘ जैसे :

  • जनरल या अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 1400 रुपए लगते हैं
  • अनुसूचित जनजाति या अनुसूचित जाति के लिए ₹750 लगते हैं

नीट परीक्षा के लिए आयु सीमा क्या है

नीट परीक्षा में शामिल होने के लिए विद्यार्थी की आयु 17 वर्ष से लेकर 25 वर्ष के बीच में होनी चाहिए और आरक्षित श्रेणी के परीक्षार्थियों को नियम के अनुसार छूट प्रदान की जाती है |

नीट ( neet ) परीक्षा का पैटर्न

नीट परीक्षा में 180 ऑब्जेक्टिव प्रश्नों को पूछा जाता है जिसमें फिजिक्स से 45 प्रश्न ,जूलॉजी से 45 प्रश्न, बॉटनी से 45 प्रश्न और केमिस्ट्री से 45 प्रश्नों को पूछा जाता है . एक उत्तर सही होने पर 4 अंक दिए जाते हैं जबकि एक गलत उत्तर दिए जाने पर 1 अंक काट लिया जाता है | यह परीक्षा 3 घंटे की होती है .

इसे भी पढ़े :  Best book for IAS exam prelims in Hindi

नीट की तैयारी कैसे करें

नीचे बताए गए सुझावों से आप नीट ( neet )  की तैयारी आसानी से घर बैठे कर सकते हैं केवल आप बताए हुए सुझाव को ध्यान से पढ़ें :

  • सबसे पहले आप एक टाइम टेबल बना ले जो नीत की तैयारी के लिए आपको अपनी कमजोरी को जानना होगा इसके बाद उसे दूर करने के उपाय ढूंढना होगा क्योंकि हर एक छात्र का अपना पढ़ने का तरीका अलग अलग होता है |
  •  आपको एनसीईआरटी की किताबों को अच्छे से अध्ययन करने की जरूरत है जिसमें केमिस्ट्री फिजिक्स बायोलॉजी को ज्यादा ध्यान से पढ़ें :
  • आज की इस डिजिटल युग में आप यूट्यूब वेबसाइट के माध्यम से आप नीत की तैयारी कर सकते हैं |
  • आपको तैयारी सिलेबस के अनुसार करनी है जिससे आप समय से सभी टॉपिक को कवर कर सके |
  • पुराने प्रश्न पत्र को अच्छी तरह से पढ़ें जिससे आपको एक आईडिया लग जाएगा की परीक्षा में किस प्रकार से प्रश्न पूछे जाते हैं |

अगर आप चाहते हैं नीट ( NEET )  की तैयारी अच्छी से हो तो आप हमारे द्वारा दिए गए सुझाव से किताब खरीद सकते हैं, अभी ख़रीदे 

दोस्तों उमीद करता हूं कि आप इस आर्टिकल में पूरी विस्तार से समझेंगे कि नीट( neet ) क्या है neet full form in hindi   और नीट की तैयारी कैसे करें से संबंधित सभी सवालों का जवाब हमने देने की कोशिश की है, अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं |

 

 

comment here