एसडीएम का फुल फॉर्म क्या होता है ( SDM full form in hindi )

बहुत लोग एसडीएम(SDM) के बारे में तो जानते हैं लेकिन SDM का full form नहीं जानते हैं तो आज हम आपको पूरा विस्तार से बताएंगे की एसडीएम(SDM) क्या होता है, SDM full form in hindi क्या होता है एसडीएम(SDM) कैसे बने तथा एसडीएम से संबंधित सभी महत्वपूर्ण बातें इस आर्टिकल में जानने को मिलेगी | आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें ‘

एसडीएम क्या है (SDM kya hai )

दोस्तों एसडीएम(SDM) का फुल फॉर्म होता है Sub Divisional Magistrate (उप प्रभागीय न्यायाधीश) जिस प्रकार लोग आईएस(IAS) बनते हैं | उसी प्रकार से SDM भी बनते हैं | आईएएस का परीक्षा UPSC कराती है | जबकि एसडीएम के लिए राज्य स्तर के पीसीएस परीक्षाएं करवाती है | जैसे : BPSC, UPPSC, MPPSC, JPSC इत्यादि |

जिलों को विभाजित करके उपखंड बनाया जाता है । उपखंड को एसडीएम द्वारा नियंत्रित किया जाता है, एक एसडीएम कलेक्टर और कार्यकारी मजिस्ट्रेट की शक्तियों का लाभ उठाता है। एक एसडीएम राज्य सिविल सेवा का एक वरिष्ठ अधिकारी हो सकता है जिसके पास अधीनस्थ भूमिकाओं में प्रासंगिक कार्य अनुभव हो या भारतीय प्रशासनिक सेवा का एक वरिष्ठ सदस्य हो।

एसडीएम का फुल फॉर्म क्या है ( sdm full form in hindi)

  • अंग्रेजी में एसडीएम का फुल फॉर्म( full form of SDM) : sub divisional magistrate होता है
  • हिंदी में एसडीएम का फुल फॉर्म( sdm full form in hindi): उप प्रभागीय न्यायाधीश होता है ।

जिसे हम शार्ट रूप में SDM के नाम से जानते है |1 जिले में एक ही एसडीएम(SDM) अधिकारी की नियुक्ति होती है ।

एसडीएम के कार्य क्या होते हैं

अगर मैं एसडीएम(SDM) के कार्य की बात करूं तो इनका कार्य marriage registration, जिले का सभी भूमि का लेखा जोखा करना, प्रकृतिक आपदा से पीड़ित लोगों तक सहायता पहुंचाना और कई तरह के लाइसेंस जारी करवाना इनका मुख्य काम होते हैं | इसके अलावा एक एसडीएम आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 और कई अन्य नाबालिग कृतियों के तहत विभिन्न न्यायिक कार्य को करते हैं ।

एसडीएम(SDM) बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता

इस पोस्ट का फॉर्म भरने के लिए आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना अनिवार्य है. अगर आप ग्रेजुएशन पास है या लास्ट सेमेस्टर या लास्ट ईयर के छात्र हैं मतलब अपीयरिंग है तो आप फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं ग्रेजुएशन में सिर्फ आपका पास मार्क्स होना चाहिए ।

अगर आपने ग्रेजुएशन किसी भी विषय से की हो आप फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं ध्यान रहे किसी भी स्टेट पीसीएस का फॉर्म भरने के लिए आपको वहां का निवासी होना जरूरी नहीं है | अगर आप उत्तर प्रदेश से हैं और आपको बिहार पीसीएस का फॉर्म भरना है तो आप फॉर्म भर सकते हैं ।

AGE LIMIT( उम्र सीमा )(SDM full form in hindi)

सडीएम बनने के लिए न्यूनतम उम्र 21 वर्ष होना चाहिए और अधिकतम उम्र 40 साल होना चाहिए तभी आप एसडीएम बन सकते हैं उम्र सीमा में जो छूट मिलती है वो उस राज्य के निवासी के लिए होगी

अगर हम कैटेगरी के आधार पर उम्र सीमा में छूट के बात करूं तो

Category Age
general category21-40
OBC category21-45
SC/ST category21-45
PWD21-55
Category wise Age

परीक्षा के चरण

इस परीक्षा के 3 चरण होते है |

  • prelims
  • mains
  • interview

SDM बनाने के लिए सिलेबस क्या है

किसी भी एग्जाम को ट्रैक करने के लिए उसका सिलेबस का नॉलेज जानकारी होना जरूरी है इसीलिए सभी छात्रों को सिलेबस के बारे में पता होना चाहिए जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं की परीक्षा के तीन चरण होते हैं prelims , mains और interview

Prelims

subjectquestionmarks
general studies 1150200
general studies 2150200
sdm full form in hindi ( prelims Exam)

Mains

general Hindi3 hours100
essay3 hours100
general studies 13 hours250
general studies 23 hours 250
general study 33 hours 250
general studies 43 hours 250
optional subject paper 13 hours
optional subject paper 2 3 hours
sdm full form in hindi (mains exam)

interview

जब आप Prelims और Mains exam को क्वालीफाई कर लेते हैं फिर आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है | इंटरव्यू 200 मार्क्स के होते हैं | इसमें कई तरह के Quistion पूछे जा सकते हैं | जैसे आप जहां से हैं उस जगह के बारे में कुछ भी पूछा जा सकता है, विषय से भी सवाल पूछे जा सकते हैं इसमें खासतौर पर इंटरव्यूअर को विश्वास दिलाना होता है की आप ही इस पद के लिए उपयुक्त हैं |

इसे भी पढ़े :

दोस्तों हम उम्मीद करते है की इस आर्टिकल में SDM (एसडीएम) क्या होता है,SDM का फूल फॉर्म (sdm full form in hindi) क्या होता है, BDO की सैलरी कितनी मिलती है और इससे सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकरीयो के बारे में पूरा बिस्तार से जाने होंगे| अगर यह आर्टिकल पसंद आये तो आप हमें कमेंट जरुर करे |

comment here